Breaking

cm साय ने मां के नाम लगाया पौधा: प्रदेश में शुरू होगा 'एक पेड़ मां के नाम' अभियान...

छत्तीसगढ़ 04 July 2024 (255)

एक पौधा जरूर लगाएं: 11 जुलाई को वन महोत्सव के राज्य स्तरीय आयोजन की तैयारी

post

देश24 न्यूज: 

Raipur: पर्यावरण संरक्षण की दिशा में छत्तीसगढ़ में अभिनव पहल की जा रही है, जिसकी शुरुआत मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने की है। अपने निवास कार्यालय में गुरुवार को मुख्यमंत्री साय ने मां के नाम दहीमन का पौधा लगाया, जिसके बाद अब पूरे प्रदेश में पौधापोरण अभियान की तैयारी है।

पौधा लगाने के साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा- समस्त प्रदेशवासियों से मेरा आग्रह है कि स्वच्छ एवं स्वस्थ पर्यावरण के लिए एक पौधा जरूर लगाएं। बताते चलें कि मुख्यमंत्री ने जिस दहीमन के पौधे को लगाया उसके कई औषधीय फायदे हैं। इसकी छाल और डंठल ब्लड प्रेशर व पीलिया के मरीज के लिए दवा का काम करता है। इसमें ईथेनालिक एक्सट्रैक्ट में होती है। इस पौधे से प्राप्त होने वाले एक्सट्रैक्ट में एंटीफंगल एंटीमाइक्रोबियल और एंटी कैंसर तत्व होते हैं।

इसी तरह 11 जुलाई को वन महोत्सव का राज्य स्तरीय आयोजन किया जाएगा। इसके अंतर्गत पूरे राज्य में 70 लाख पौधों का रोपण किया जाएगा। प्रदेश के वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री केदार कश्यप ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी मुख्य वन संरक्षक एवं वनमण्डलाधिकारियों की बैठक ली है। मंत्री केदार कश्यप ने बताया कि वन महोत्सव के मौके पर लोग अपनी मां के नाम पेड़ लगाएं। इसके लिए पौधरोपण क्षेत्र, जनप्रतिनिधियों द्वारा गोद लिया जाएगा। हर पौधरोपण क्षेत्र को स्थानीय देवी देवताओं के नाम दिया जाएगा। प्राइवेट-सरकारी जमीन आंगनबाड़ी, पुलिस चौकी, उद्यान, अस्पताल, शमशान, शासकीय परिसर, छात्रावास मं भी पौधे लगाए जाएंगे। वनमंत्री ने अफसरों को निर्देश दिया है कि इनके फोटोग्राफ्स मिशन लाईफ की साईट पर अपलोड किए जाएं।

3 करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्य:
प्रदेश में अलग-अलग योजना और अभियान के तहत इस बार 3 करोड़ 95 लाख 85 हजार से अधिक पौधरोपण करने का लक्ष्य अधिकारियों को दिया गया है। अधिकारियों ने बताया कि इसमें 30 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है।

कहां, कितने पौधे लगेंगे:
अधिकारियों ने बताया कि जगदलपुर वृत्त अंतर्गत 535.48 हे. एवं 57 कि.मी. सड़क किनारे वृक्षारोपण के अंतर्गत कुल 308450 पौधों का रोपण किया जाना है। रायपुर वनवृत्त अंतर्गत 291.74 हे. एवं 2 कि.मी. सड़क किनारे वृक्षारोपण में 323913 पौधों का रोपण किया जाना है। कांकेर वनवृत्त अंतर्गत 220.74 हे. में 158804 पौधों का रोपण किया जाना है। सरगुजा वनवृत्त अंतर्गत 4942.44 हे. एवं 21 किमी सड़क किनारे वृक्षारोपण में 5053370 पौधा रोपण का लक्ष्य रखा गया है। दुर्ग वनवृत्त अंतर्गत 167.55 हे. में 142468 पौधों का रोपण किया जाना है। बिलासपुर वनवृत्त अंतर्गत 520.05 हे. एवं 04 कि.मी. सड़क किनारे वृक्षारोपण में 454159 पौधा रोपण का लक्ष्य रखा गया है। किसान वृक्ष मित्र योजनांतर्गत 2 करोड़ 82 लाख 35 हजार 894 पौधों का रोपण कृषकों के द्वारा अपनी भूमि पर किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील का असर
:
दरअसल, बीते रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव के बाद किए गए पहले 'मन की बात' रेडियो प्रोग्राम में एक आइडिया दिया था। पीएम मोदी ने देशवासियों से अपील की थी कि एक पौधा अपने नाम पर जरूर लगाएं। पेड़ लगाने से धरती मां की रक्षा होगी। मां के रिश्ते और पर्यावरण पर पीएम मोदी ने कहा, मैं आपसे पूछूं कि दुनिया का सबसे अनमोल रिश्ता कौन सा होता है तो आप जरूर कहेंगे - 'माँ'। हम सबके जीवन में 'माँ' का दर्जा सबसे ऊंचा होता है। माँ हर दुख सहकर भी अपने बच्चे का पालन-पोषण करती है। हर माँ अपने बच्चे पर हर स्नेह लुटाती है। जन्मदात्री माँ का ये प्यार हम सब पर एक कर्ज की तरह होता है, जिसे कोई चुका नहीं सकता।

==


You might also like!


RAIPUR WEATHER