Breaking

अब सूरजपुर में भड़का आक्रोश: आरोप- SDM ने चर्चा के बहाने थाने बुलाकर कांग्रेसियों को डंडे से पीटा, पिटाई से अचेत हुआ मीडियाकर्मी...

छत्तीसगढ़ 04 July 2024 (392)

सूरजपुर में बवाल: आक्रोशित लोगों ने घेरी कोतवाली, किया चक्का जाम... - सड़क निर्माण कार्य में गड़बड़ी के आरोप को लेकर शुरु हुई खींचतान के बीच जमकर हंगामा...

post

देश24 न्यूज: 


Surajpur: शहर में सड़क निर्माण कार्य में गड़बड़ी के आरोप को लेकर शुरु हुई खींचतान गुरुवार को बड़े बवाल  में बदल गया। इस बीच कांगे्रसियों के साथ अभद्रता और कवरेज करने गए पत्रकारों के साथ बदसलूकी के मामले ने ऐसा तूल पकड़ा कि कोतवाली का घेराव और चक्काजाम तक की नौबत आ गई। फिलहाल, सकारात्मक पहल का आश्वासन एसएसपी ने मामला शांत करा लिया है।

मिली जानकारी के मुताबिक, सड़क निर्माण कार्य में गड़बड़ी को लेकर कांग्रेसी कलेक्टर कार्यालय का घेराव करने निकले थे। इस बीच बुलावे पर कांग्रेसियों का प्रतिनिधिमंडल जब चर्चा के लिए कोतवाली थाना पहुंचा तो  यहां मामला और बिगड़ गया। आरोप है कि थाने में एसडीएम ने कांग्रेसियों के प्रतिनिधिमंडल के साथ न सिर्फ बदतमीजी की बल्कि मारपीट पर भी उतारु हो गए। इतना ही नहीं, इस दौरान कवरेज करने पहुंचे मीडिया कर्मियों के साथ भी काफी बदसलूकी की गई और घटना का वीडियो बना रहे एक पत्रकार की पिटाई भी कर दी। इस पूरे घटनाक्रम से बौखलाए भड़के कांग्रेसियों समेत आम लोगों ने कोतवाली का घेराव कर चक्काजाम कर दिया। आक्रोशित भीड़ ने एसडीएम के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कार्यवाही की मांग की। हालांकि, फिलहाल एसएसपी के आश्वासन के बाद मामला शांत हो गया है।




पहले ही दिया था प्रदर्शन का अल्टीमेटम:
 खबर है कि पीडब्ल्यूडी द्वारा कराए जा रहे सड़क निर्माण कार्य मे व्यापक अनियमितताएं बरते जाने की शिकायत पर कार्यवाही नही होने पर कांग्रेस के असंगठित क्षेत्र जनसमस्या निवारण प्रकोष्ठ के प्रदेश सचिव अफरोज खान ने 4 जुलाई गुरुवार को जिला संयुक्त कार्यालय का घेराव कर धरना-प्रदर्शन करने का अल्टीमेटम दिया था। इस पर सूरजपुर एसडीएम जगन्नाथ वर्मा ने गुरुवार को सुबह करीब 11 बजे कलेक्टर कार्यालय का घेराव करने जा रहे प्रकोष्ठ के प्रदेश सचिव अफरोज खान को चर्चा करने के लिए कोतवाली थाने बुलाया। उसके साथ एनएसयूआई के प्रदेश सचिव राजेश साहू भी कोतवाली पहुंचे।

घटना के दौरान अचेत हुआ मीडिया कर्मी:
आरोप है कि चर्चा के लिए कोतवाली थाना पहुंचे कांग्रेस नेता अफरोज खान व राजेश साहू के साथ एसडीएम जगन्नाथ वर्मा ने अभद्रता करते हुए डंडे से उनकी पिटाई कर दी। वहीं इसकी जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंचकर घटना का वीडियो बना रहे एक पत्रकार के साथ भी अभद्रता करते हुए एसडीएम द्वारा पत्रकार का मोबाइल छीनकर उसके साथ भी मारपीट की। बता दें कि विगत दिनों पत्रकार की ओपन हार्ट सर्जरी हुई है और वे घटना के बाद अचेत हो गए थे। इस आशय की कोतवाली थाना में लिखित शिकायत कर पीड़ित अनवर खान ने एसडीएम के विरुद्ध कार्यवाही की मांग की।

थाने के सामने टायर जलाकर चक्का जाम:
घटना की जानकारी मिलते ही लोगो ने कोतवाली के सामने टायर जलाकर चक्का जाम करते हुए एसडीएम व प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए चक्का जाम कर दिया। वे एसडीएम को निलंबित कर उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग कर रहे थे। इस दौरान भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद था।

एसएसपी के आश्वासन पर शांत हुआ मामला:
तनाव बढ़ता देख एसएसपी एमआर माहिरे ने तत्काल कोतवाली पहुंचकर वस्तुस्थिति की जानकारी ली। उसके बाद उन्होंने प्रतिनिधिमंडल से चर्चा कर उन्हें आश्वस्त किया कि कोतवाली परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरे से फुटेज से भी वास्तविकता की जानकारी लेंगे। उन्होंने कहा कि मामले की निष्पक्ष जांच कर वैधानिक कार्यवाही की जाएगी। उसके बाद फिलहाल के लिए मामला शांत हो गया है। चर्चा करने वालो में गोंगपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता जयनाथ केराम समेत कांग्रेस ब्लाक अध्यक्ष अश्वनी सिंह, कांग्रेस नेता पंकज तिवारी, बार एसोसिएशन के अध्यक्ष गिरजाशंकर मिश्रा, पार्षद संतोष सोनी, मनोज डालमिया प्रमुख रूप से मौजूद थे।...
घटना सही नहीं है। शिकायत और सीसीटीवी फुटेज की जांच कराकर दोषी पाए जाने वाले के विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही की जाएगी। ऐसी घटनाओं में टायर जलाना, चक्काजाम करना भी अनुचित है। बातचीत के जरिये समस्या का निराकरण करना चाहिए।

-एमआर माहिरे, एसएसपी, सूरजपुर

==


You might also like!


RAIPUR WEATHER